रामपाल माजरा ने तोड़ी चुप्पी

रामपाल माजरा ने तोड़ी चुप्पी

भाजपा छोड़ने के बाद पूर्व सीपीएस चौ. रामपाल माजरा ने तोड़ी चुप्पी

कहा : मेरे कार्यकर्ता ही मेरी असली ताक़त, अगला फ़ैसला भी कार्यकर्ताओं से विचार-विमर्श करने के बाद ही लूँगा

Kaithal nEWS, 14 अप्रैल (कृष्ण प्रजापति): विशेष बातचीत में आज पूर्व संसदीय सचिव व वरिष्ठ नेता चौ रामपाल माजरा ने कहा कि मीडिया के साथियों और हमारे शुभ चिंतकों का भाजपा छोड़ने के बाद से लगातार एक ही प्रश्न है कि अब किस पार्टी की नीतियों में विश्वास जताओगे, इसके जवाब में उन्होंने कहा कि यह समय राजनीतिक फ़ैसले लेने का नही है, जो भी किसान-कमेरे के साथ खड़ा है, आज हमें उसी के साथ रहकर चलना है, चाहे इनेलो, कांग्रेस, आप, बसपा या कोई भी अन्य दल है जो भी किसान की आवाज़ को किसी भी पटल पर उठा रहा है, सब स्वागत योग्य हैं।

माजरा ने कहा कि चाहे सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा का राज्यसभा में मज़बूती से किसानों का पक्ष रखना हो, अभय सिंह चौटाला का विधानसभा से इस्तीफ़ा देने की बात हो, अरविंद केजरीवाल का दिल्ली में आंदोलनरत्त किसानो को हर संभव मदद देना हो, रणदीप सिंह सुरजेवाला का राष्ट्रीय स्तर पर आवाज़ उठाना हो, या फिर नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा का सरकार को विधानसभा में झुकाना हो, सभी मामलों में इनके फैसले सराहनीय रहे हैं। उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं से आह्वान करते हुए कहा कि किसान के साथ हमें डट कर खड़े रहना है और हर सम्भव मदद करनी है। रामपाल माजरा ने कहा कि
अगला फ़ैसला भी सभी कार्यकर्ताओं से विचार-विमर्श करने के बाद ही लूँगा, मेरे कार्यकर्ता ही मेरी असली ताक़त हैं।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English Hindi Hindi