google.com, pub-4801872510841202, DIRECT, f08c47fec0942fa0 curl --location -g --request PUT 'https://api.adx1.com/api/campaign/{{campaign_id}}?api_key={{api_key}}' \ --header 'Content-Type: application/x-www-form-urlencoded' \ --data-urlencode 'Campaign[active]=0' हरयाणा में बीजेपी पर कोई पाबंदी नहीं ,मनोहर सरकार ने जनता के लिए जारी किये नए फरमान  – NEWS INDIA POST
हरयाणा में बीजेपी पर कोई पाबंदी नहीं ,मनोहर सरकार ने जनता के लिए जारी किये नए फरमान 

हरयाणा में बीजेपी पर कोई पाबंदी नहीं ,मनोहर सरकार ने जनता के लिए जारी किये नए फरमान 

हरयाणा में बीजेपी पर कोई पाबंदी नहीं ,मनोहर सरकार ने जनता के लिए जारी किये नए फरमान

शादी समारोह में आउटडोर में 200 और इंडोर में 50 लोगों की अनुमति, अंतिम संस्कार में 20 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो सकेंगे
chandigarh news  (news india post )लगता है हरियाणा बीजेपी के फायदे के लिए अब कोई कार्यक्रम नहीं बचा जिसके चलते हरियाणा(haryana) के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि देश और प्रदेश में दिनोंदिन बढ़ते कोरोना मामलों के चलते हमें कड़ी सावधानी बरतनी होगी।ये वही हरयाणा के मुख्यमंत्री है जो नैनिहालों के स्कूल खोलने से भी नहीं हिचके थे। और तो और मुख्यमंत्री मनोहर लाल और बीजेपी हरयाणा  अपने फायदे के लिए सरकार यानि खुद बनाये नियम -कानूनों को तोड़ने में जरा भी परहेज नहीं करते है लेकिन अगर आम जनता से जरा भी गलती हो जाये तो पोलिस के जरिये आम जनता को दबाया जाता रहा है। यह सब हम बीते एक वर्ष से देखते आ रहे है की हरयाणा सरकार और उनकी पार्टी के लोगों ने कितने नियम कानूनों का पालन किया है। खैर इस बार मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें इस बात का भी ध्यान रखना है कि कौन सी चीज अपरिहार्य है और किस चीज को टाला जा सकता है। उन्होंने कहा कि इस बार कोरोना का विस्तार शिक्षण संस्थानों से शुरू हुआ है, इसलिए वहां अधिक सतर्कता बरतने की जरूरत है। हमें सार्वजनिक समारोहों आदि में भीड़ को भी कम करने की जरूरत है। इसलिए निर्णय लिया गया है कि अब से सार्वजनिक समारोह में खुले में 200 और इंडोर में 50 से अधिक लोग एकत्र नहीं हो सकेंगे। इसी तरह, अंतिम संस्कार में भी 20 से अधिक लोग शामिल नहीं हो सकेंगे। उन्होंने सभी उपायुक्तों को निर्देश दिए कि जिलों में एडवाइजरी जारी कर रात के समय होने वाले शादी समारोहों का समय बदलकर दिन में किया जाए। इसके अलावा, नवरात्रों के कार्यक्रम भी रात की बजाय दिन में आयोजित किए जाएं।

लाशों के ढेर नहीं देख सकते-अनिल विज
हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि कोरोना को फैलने से रोकने के दो तरीके हैं। पहला तरीका लॉकडाउन और दूसरा- सख्ती है। हम चाहते हैं कि प्रदेश में लॉकडाउन की बजाय सख्ती बरतकर हालात से निपटा जाए। उन्होंने कहा कि हम सख्ती बरतकर लोगों की नाराजगी झेल सकते हैं लेकिन लोगों को मरते हुए नहीं देख सकते। इस बार कोरोना  अति सक्रिय है। पिछले साल यह धीरे-धीरे बढ़ा था लेकिन इस बार एक ही दिन में लगभग साढ़े पांच हजार मामले सामने आना गंभीर चिंता की बात है। इसलिए हमें कंटेनमेंट और माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने होंगे। अतिरिक्त बैड की व्यवस्था करें। जरूरत पडऩे पर स्कूलों, धर्मशालाओं में भी बैड लगाए जा सकते हैं।उन्होंने निर्देश दिए कि होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों के घर जाकर कम से कम दो दिन में एक बार अवश्य उनकी जांच की जाए। इसके लिए बाकायदा एक ऐप बनाई गई है। श्री विज ने कहा कि उन्होंने पिछली बार हर जिले में लोगों से पूछा था और इस बार भी रियलिटी चैक जरूर किया जाएगा।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English Hindi Hindi