पटौदी में स्कूल वैन जलकर राख, टला बड़ा हादसा

पटौदी में स्कूल वैन जलकर राख, टला बड़ा हादसा

स्कूल वैन जलकर राख, टला बड़ा हादसा

घटना आश्रम हरी मंदिर संस्कृत महाविद्यालय पटौदी परिसर की

यहीं पर ही हरे कृष्णा वर्ल्ड स्कूल की वैन में लगी आग

फायर ब्रिगेड ने मौके पर पहुंच वैन की आग को बुझाया

फतह सिंह उजाला
पटौदी ।
 स्कूल वैन में रहस्य में तरीके से आग लगी और आग लगने के बाद यह स्कूल वैन पूरी तरह से जलकर राख हो गई । जिस समय स्कूल वैन में आग लग रही थी, आसपास में और भी वाहन खड़े हुए थे। जिसके कारण हादसा और भी भयंकर हो सकता था । लेकिन सौभाग्य से मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड के कर्मचारियों के द्वारा सबसे पहले सुलगती वैन के आसपास खड़े वाहनों को बिना देरी किए वहां से दूर हटाया गया ।

जानकारी के मुताबिक घटना पटौदी के विख्यात आश्रम हरी मंदिर संस्कृत महाविद्यालय परिसर में ही स्थित हरे कृष्णा वर्ल्ड स्कूल से संबंधित स्कूल वैन की है । सूत्रों के मुताबिक इस स्कूल वैन एचआर 55आर 7907 को एक दिन पहले ही मुंरम्मत करवा कर संस्था परिसर में ही निर्माणाधीन ऑडिटोरियम परिसर में खड़ा किया हुआ था । शुक्रवार को दोपहर के समय रहस्यमय तरीके से इस स्कूल वैन में आग लग गई। जैसे ही स्कूल वैन में आग लगने की जानकारी संस्था परिसर में फैली तो मौजूद लोगों में भगदड़ मच गई, और सभी ने अपने स्तर पर भभकती स्कूल वैन आग को बुझाने का प्रयास किया।

इसी बीच में स्थानीय फायर ब्रिगेड कार्यालय को आगजनी की इस घटना के बारे में सूचना दी गई । बिना देरी किए फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंची और आग की लपटों से घिरी स्कूल की वैन मैं सुलग रही आग को बुझाया गया । सौभाग्य सहित गनीमत की बात यही रही कि निर्माणाधीन ऑडिटोरियम परिसर में गर्मी और तापमान को देखते हुए अधिकांश वाहन वहां छाया में ही खड़े किए जाते हैं । लेकिन जैसे ही स्कूल वैन में आग लगने की जानकारी मिली तो मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड के कर्मचारियों के द्वारा आसपास में खड़े अन्य वाहनो के कारण संभावित बड़े हादसे की आशंका को ध्यान में रखते हुए सबसे पहले आस पास में खड़े हुए अन्य सभी वाहनों को जल रही सकूल बैंक से दूर किया । सबसे बड़ी राहत की बात यह रही है कि आगजनी में केवल मात्र स्कूल वैन को ही नुकसान पहुंचा है अन्य किसी भी प्रकार के नुकसान की कोई सूचना नहीं है ।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English Hindi Hindi