google.com, pub-4801872510841202, DIRECT, f08c47fec0942fa0 curl --location -g --request PUT 'https://api.adx1.com/api/campaign/{{campaign_id}}?api_key={{api_key}}' \ --header 'Content-Type: application/x-www-form-urlencoded' \ --data-urlencode 'Campaign[active]=0' 3.50 लाख रुपए मूल्य के मोबाइल फोन कैथल साइबर सैल द्वारा किए गये बरामद – NEWS INDIA POST
3.50 लाख रुपए मूल्य के मोबाइल फोन कैथल साइबर सैल द्वारा किए गये बरामद

3.50 लाख रुपए मूल्य के मोबाइल फोन कैथल साइबर सैल द्वारा किए गये बरामद

25 व्यक्तियों के गुम हुए करीब 3.50 लाख रुपए मूल्य के मोबाइल फोन साइबर सैल द्वारा किए गये बरामद,
एसपी लोकेंद्र सिंह द्वारा फोन मालिको को बुलाकर लौटाए गये उनके गुमशुदा फोन,
गुमशुदा फोन मिलने की उम्मीद गंवा चुके व्यक्तियों द्वारा जताया गया कैथल पुलिस का आभार
kaithal news, 23 अप्रैल (news india post ) साइबर सैल कैथल पुलिस द्वारा पुलिस अधीक्षक लोकेंद्र सिंह के दिशा निर्देश पर चलाई जा रही एक स्पैशल मुहीम के तहत 25 व्यक्तियों के गुमशुदा मंहगे मोबाइल फोन ट्रैसआउट करके बरामद कर लिए गये। जिन्हें 23 अप्रैल को पुलिस अधीक्षक कैथल लोकेंद्र सिंह द्वारा कार्यालय पुलिस अधीक्षक में उनके मालिको के सुपूर्द कर दिया गया। बरामद किए गये सभी 25 मोबाइल फोन का अनुमानित मूल्य 3 लाख 50 हजार रुपए से ज्यादा आंका जा रहा है। बरामद किए गए फोन के मालिकों में कालेज विधार्थी, घरेलू महिला, किसान, दुकानदार तथा खेती व मजदूरी का धंधा करने वाले तथा आम व्यक्ति शामिल है। अपने गुम हो चुके मोबाइल फोन के मिलने की उम्मीद गंवा चुके उक्त लोगों की प्रसन्नता देखते ही बनती थी, जो कैथल पुलिस का धन्यवाद करते थक नहीं रहे थे।


पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि सबइंस्पैक्टर सत्यवान की अगुवाई में साईबर सैल कैथल पुलिस द्वारा गुमशुदा मोबाइल फोन के मामलों की जांच के दौरान हरियाणा के विभिन्न अलग-अलग स्थानों से उन व्यक्यिों को ट्रैस किया गया, जो उक्त गुमशुदा फोन को लावारिश हालात में मिलने उपरांत यूज कर रहे थे। जिनके कब्जे से नियमानुसार कार्रवाई अंतर्गत पुलिस द्वारा करीब 3 लाख 50 हजार रुपए मूल्य के 25 मोबाइल फोन जब्त कर लिए गये थे। उक्त सभी मोबाइल फोन को सोमवार की सुबह एसपी लोकेंद्र सिंह द्वारा कार्यालय पुलिस अधीक्षक में एक साधारण कार्यक्रम के दौरान उनके मालिकों को सौंप दिया गया। कार्याक्रम दौरान एसपी लोकेंद्र सिंह ने कहा की किसी व्यक्ति के फोन गुम होने की शिकायत मिलने पर पुलिस द्वारा गुमशुदा फोन को ढुंढने का हर संभव प्रयास किया जाता है। हमारी साइबर सैल टीम ऐेसी शिकायतों पर कार्रवाई करते हुए आईएमईआई नंबर द्वारा मोबाइल में इस्तेमाल किए गए सिम की सहायता से लोकेशन को ट्रेस करती हैं। तकनीक का इस्तेमाल करते हुए पुलिस निरंतर लापता फोन को ढूंढ रही है और आने वाले दिनों में और रिकवरी की भी उम्मीद है। निजी डेटा और अन्य जानकारी सेव होने के कारण अधिकांष लोगों के लिए मोबाइल फोन की अहमियत उसकी कीमत से कहीं अधिक होती है। हमारी टीमें तकनीक का इस्तेमाल करते हुए लापता/गुम/चोरी हुए फोन का पता लगाने के लिए इनके एक्टिवेट होने तक लगातार ट्रैक करती रहती है। हैंडसेट के एक्टिवेट होते ही पुलिस लोकेशन ट्रैक कर डिवाइस को रिकवर कर लेती है। एसपी ने लोगों से आग्रह करते हुए कहा कि इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स के गुम या चोरी होने पर किसी भी प्रकार के दुरुपयोग से बचने के लिए ऐसे मामलों की रिपोर्ट तुरंत नजदीकी पुलिस स्टेशन में अवश्य करें। अपने गुम हो चुके मोबाइल फोन के मिलने की उम्मीद गंवा चुके उक्त लोगों की प्रसन्नता देखते ही बनती थी, जो उक्त सभी व्यक्तियों द्वारा कैथल पुलिस का अपने फोन मिलने पर आभार प्रकट किया गया।
पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि बिजली विभाग में कार्यरत सुरेंद्र कौर पत्नी भगवान दास निवासी सीवन गेट कैथल को फोन महिला से कहीं पर गुम हो गया था। इसके अतिरिक्त मजदूरी का धंधा करने वाली महिला सुखदेई निवासी रोहेड़ा का मोबाइल फोन उसके घर के आसपास गुम हो गया था। इसी प्रकार कॉलेज छात्रा वर्षारानी निवासी पुंडरी का फोन रास्ते में कहीं गुम हो गया था। प्रवक्ता ने बताया कि सिग्नस हस्पताल में बतौर सुरक्षा गार्ड कार्यरत कृष्ण निवासी शेरुखेड़ी की पुत्री आशा को मोबाइल फोन आईजी कॉलेज में आते समय कहीं पर गिर गया था। एक अन्य मामले में राजमिस्त्री का कार्य करने वाले देवीगढ रोड शिव कालोनी कैथल निवासी मंजीत का फोन भी कहीं रास्ते में गिरकर गुम हो गया था। प्रवक्ता ने बताया कि गांव गढ़ी पाडला निवासी किसान कुलदीप सिंह का मोबाइल बारिश के दौरान खेत में जाते समय कहीं पर गिरकर गुम हो गया था, जो पुलिस द्वारा उक्त मोबाइलो सहित कुल 25 मोबाइल फोन टै्रस करके एसपी लोकेंद्र सिंह द्वारा उनके मालिकों को सौंप दिए गये।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English Hindi Hindi