google.com, pub-4801872510841202, DIRECT, f08c47fec0942fa0 curl --location -g --request PUT 'https://api.adx1.com/api/campaign/{{campaign_id}}?api_key={{api_key}}' \ --header 'Content-Type: application/x-www-form-urlencoded' \ --data-urlencode 'Campaign[active]=0' कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग नहीं करेगी रिलायंस, पंजाब-हरियाण हाई कोर्ट में डाली यह याचिका – NEWS INDIA POST
कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग नहीं करेगी रिलायंस, पंजाब-हरियाण हाई कोर्ट में डाली यह याचिका

कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग नहीं करेगी रिलायंस, पंजाब-हरियाण हाई कोर्ट में डाली यह याचिका

कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग नहीं करेगी रिलायंस, पंजाब-हरियाण हाई कोर्ट में डाली यह याचिका

Reliance in Punjab-Haryana HighCourt: देश के सबसे बड़े कारोबार में शुमार रिलायंस ने नए कृषि कानूनों को लेकर अपनी राय रखी है और साथ ही पंजाब व हरियाण हाई कोर्ट में एक याचिका डाली है| रिलायंस की ओर से यह याचिका उसकी चीजों को नुकसान पहंचा रहे लोगों को लेकर डाली गई है| रिलायंस के अनुसार पंजाब-हरियाणा में खासकर पंजाब में उसकी ही एक कंपनी रिलायंस जियो पर संकट खड़ा किया जा रहा है| यहां नए कृषि कानूनों की आड़ लेकर जियो के टावरों को उपद्रवियों द्वारा तोड़ा जा रहा है| इसलिए हाई कोर्ट (Reliance in Punjab-Haryana HighCourt) इसमें तत्काल हस्तक्षेप करे और इसे रोके| रिलायंस की ओर से यह भी कहा गया है कि यह तोड़फोड़ किसान आंदोलन का हिस्सा न लगकर व्यापार प्रतिद्वंद्वी की चाल लगती है|


नए कृषि कानूनों को लेकर रिलायंस का स्पष्टीकरण…….

इधर रिलायंस ने नए कृषि कानूनों के नाम पर किए गए दावों को लेकर एक स्पष्टीकरण भी जारी किया है|जैसा कि कहा जा रहा है कि सरकार द्वारा लाये गए नए कृषि कानून अंबानी को फायदा देंगे| इससे अम्बानी के बिजिनेस को फायदा होगा| जहां इसी को लेकर रिलायंस ने स्पष्टीकरण दिया है कि रिलायंस व् उसकी कोई सहायक कंपनी ने पहले कभी भी ‘कॉरपोरेट’ या ‘कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग’ नहीं की है| आगे भी कंपनी की कोई ऐसी योजना नहीं है| रिलायंस ने और न ही उसकी किसी अन्य सहायक कंपनी ने कृषि जमीन को पंजाब/​हरियाणा या देश में कहीं भी प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से नहीं खरीदा है| आगे भी कंपनी इस बारे में कोई योजना नहीं बना रही है|

रिलायंस का कहना है कि रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) देश के संगठित खुदरा बाजार की एक प्रमुख कंपनी है|​ सभी तरह के रिटेल प्रोडक्ट्स में अनाज, फल, सब्जियों समेत रोजाना इस्तेमाल होने वाले कई उत्पाद शामिल हैं| ये सभी उत्पाद स्वतंत्र मैन्युफैक्चरर्स और सप्लायर्स के जरिए आते हैं| कंपनी कभी भी किसानों से सीधे तौर पर ये सब नहीं खरीदती है| इसके अलावा कंपनी ने कभी भी किसानों का फायदा उठाने के लिए लंबी अवधि में खरीद को लेकर कोई कॉन्ट्रैक्ट नहीं किया है| कंपनी ने यह भी नहीं कहा ​है कि उसके सप्लायर्स किसानों से कम कीमत पर खरीदी करें|कंपनी ऐसा कभी नहीं करेगी| रिलायंस इंडस्ट्रीज ने सभी किसानों के प्रति आभार व आदर है|आखिरकार किसान देश के 1.3 अरब आबादी के ‘अन्नदाता’ हैं| रिलायंस और उसकी सहायक कंपनी किसानों के सशक्तीकरण के लिए प्र​तिबद्ध है| रिलायंस ने वो अपने सप्लायर्स से न्यूनतम समर्थन मूल्य यानी एमएसपी का पालन करने के लिए जोर देगी|
रिलायंस तो आम जनता को भी फायदा दे रही है….

रिलायंस ने कहा कि वह किसानों को नुकसान पहुंचाने के बजाय उसने कई ऐसे काम किए हैं, जिससे किसानों के साथ-साथ आम जनता को भी लाभ मिला है| रिलायंस ने आधुनिक तकनीक पर काम किया है| इससे भारतीय किसानों और आम ग्राहकों को लाभ मिला है| जियो ने लोगों को भरपूर लाभ पहुंचाया है| जियो के 4जी डेटा की पहुंच देश के हर एक गांव तक है| जियो ने सस्ता और तेज नेट उपलब्ध करवाया है|कोविड-19 महामारी के दौरान जियो ने करोड़ों लोगों के लिए एक लाइफलाइन की तरह काम किया है| जियो नेटवर्क के जरिए न जाने कितने काम आसान हुए हैं और घर से हो सके हैं|

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

English English Hindi Hindi